vishakhapatnams city vizag me L.G Polymersne bhopal gas kand ki yaad tazaa kar di

Image
आंध्रप्रदेश  के विशाखापटनम वायज़ेग के वेंकटपुरम  के आर आर पुरम की एल .जी. पॉलिमर कंपनी मे रात करीब ढाई बजे स्टाइरिन गैस लीक होने से लोग जहा थे वही बेहोश हो गए कुछ लोग सड़क पर भी बेहोशों की अवस्था मे मिले है । गैस लीक होने से  यहा वह लोग गिरने लगे कुछ की लाश सड़क पर तो कोई कुए मे तो कोई नाले किनारे मृत पाये गए इस तरह से कुल  11  व्यक्तियों की मृत्यु हो गयी है साथ कई पशु पक्षी भी इसगेस से आहात हुए हे सबसे ज्यादा नुकसान बुजुर्गो एवं बच्चो मे देखने को मिला है वही अस्थमा के मरीज को भी अस्पताल मे भर्ती करवाया गया है 3 से 4 किलोमीटर क्षेत्र मे फ़ेल जाने से लोगो को रेशेस आंखो मे जलन एवं सांस लेने मे तकलीफ हो रही है करीब 1000 लोगों को अस्पताल मे भर्ती कराया गया है । 100 नंबर से सूचना आने के तुरंत बाद सरकार एवं प्रशासन हरकत मे आया और डीसास्टर मेनेजमेंट ने 5 गाँव को खाली कराया है  । केंद्र सरकार भी हरकत मे आ गयी है और राज्य को यथा संभव मदद का एलान किया है गैस रिसाव पर काबू पाया गया है  ।जगन मोहन रेड्डी द्वारा घटना स्थल पर पहुचकर हॉस्पिटल मे भर्ती मरीजो से मुलाक़ात कर सहायता का आश्वासन पीड़ि

तानाशाह किम जोंग उन के साम्राज्य नॉर्थ कोरिया की वारिश किम यो- जोंग

सनकी तानाशाह और उसका साम्राज्य


किम जोंग उन सनकी तानशाह की तबीयत कोरोना के दौरान नासाज़ हो चली है हार्ट सरजरी के बाद से उत्तर कोरिया की गद्दी खाली हो गयी है माना ये जा रहा है की किम जोंग की सरजरी फ़ेल होने से किम जोंग उन की हालत नाजुक हो गयी है इसी बीच पोलीट ब्यूरो मे किम यो जोंग के वापसी से अफवाहों का बाज़ार गरम हो गया है इस घटना की तफतीश दक्षिण कोरिया के द्वारा की जा रही है उत्तर कोरिया आधिकारिक तौर पर इसकी पुष्टि नहीं की गयी 11 अप्रैल से किम जोंग उन को नहीं देखा गया है 15 अप्रैल को होने वाले सालाना समारोह मे शामिल नहीं होने से ये अफवाहे ज़ोर पकड़ रही है उत्तर कोरिया मे तानाशाही होने के कारण वहाँ की मीडिया से खबरे दुनिया तक पहुचना मुशकील भरा काम है चाइना सेकिम जोंग के शत के लिए मेडिकल टीम का उत्तर कोरिया जाना भी अफवाहों को बल दे रहा है वही कुछ चाइनिज न्यूज़ चैनल ये दावा कर रहे है की किम जोंग मर चुका है वही कुछ का कहना की वह कोमा मे है ।

क्यो किम जोंग को सनकी कहा जाता है

 सनकी किम के पास प्रशिक्षित सेना है हथियारो का झखीरा  है किम के पास कई परमाणु मिसाईले, हायड्रोजन बॉम्ब है इसके साथ ही कई भूमिगत परमाणु कार्यक्रम कोरिया चलाता है ।कोरिया के पास लंबी दूरी की कई मिसाईल भी

 जिनमे KN -टोचका कम दूरी तक सटीक मार करने वाली मिसाईल है ।

पूक्कुसॉन्ग-1 लंबी दूरी तक मार करने वाली मिसाईल है इसे चाइना के मदद से तेयार किया गया है इसे KN-11 नाम से भी जाना जाता है ।

पूक्कुसॉन्ग -2  पूक्कुसॉन्ग-1 का अपग्रेड वर्शन है जो KN-15 के नाम से जाना जाता है ।

कोरिया के पास 200 ह्वासॉन्ग - 5  मिसाइल है जो  330 किलोमीटर की मारक क्षमता वाली मिसाईल है ।यह मिसाईल कोरिया ने अपने नजदीक के देशो की राजधानियों को टार्गेट बनाया है ।

कोरिया के पास 400 ह्वासॉन्ग -6 मिसाईल है  इसकी मारक क्षमता 700 किलोमीटर है इसके निशाने पर जापान के कुछ शहर है ।

कोरिया पास ह्वासॉन्ग -7 मिसाईल है इसकी अचूक  मारक क्षमता 1600 किलोमीटर है जिससे पूरे जापान पर टार्गेट मे रखा गया है

4000 किलोमीटर की मारक क्षमता वाली ह्वासॉन्ग -10 मिसाईल है जिसकी रंगे मे एशिया के कई देश आते है ।

ह्वासॉन्ग -12 KN-17 मिसाईल की मारक क्षमता 6000 किलोमीटर तक है इसके निशाने पर अमेरिका का  शहर अलास्का है।

ह्वासॉन्ग -14 KN-20 के नाम से प्रख्यात मिसाइले की मारक क्षमता 6200 किलोमीटर है ।

ह्वासॉन्ग-15 की मारक क्षमता 13000 किलोमीटर है जो अमेरिका को टार्गेट करने के लिए बनाई गयी है
.

सनकी तानाशाह के बनाए नियम जो उत्तर कोरिया मे लागू होते है


उत्तर कोरिया मे प्रत्येक घर मे सरकार ने रेडियो लगा रखा है जिससे आम नागरिक बंद नहीं कर सकते
उत्तर कोरिया के लोग जीन्स नहीं पहन सकते है ।

उत्तर कोरिया मे गरीबो का फोटो लेना मना है गरीबो के बारे मे बात करना मना है सभी को खुश दिखना होता है ताकि उत्तर कोरिया की इमेज दुनिया मे खराब न हो सामान्य से द्दिखने  वाली यह बात आपको मौत की सजा तक पहुचा सकती है ।

यहा बाइबल रखना या दक्षिण कोरिया की फिल्म या पॉर्न देखना अपराध माना जाता है

उत्तर कोरिया मे रहने वालों को अपना मंदपसंद हैयर स्टाइल रखने का अधिकार नहीं है सरकार द्वारा 28 हैयर स्टाइल तय किए गए है जिनमे 18 स्टाइल महिलाओ एवं 10 स्टाइल पुरुषो के लिए रखी गयी है ।

कोरिया मे सभी मकानो को भूरे रंग से रंगने का प्रावधान है जो कफ़्फ़ी भद्दा लगता है ।

उत्तर कोरिया के कानून के मुताबिक पीड़ी दर पीड़ी सजा का प्रावधान है याने अपराधी की अगली पीड़ी को भी सजा भुगतनी पड़ती है ।

उत्तर कोरिया मे केवल तीन ही टीवी चैनल है दो चैनल पर साप्ताहिक कार्यक्रम और एक चैनल पर धारावाहिक प्रसारित किया जाता है ।किम जोंग जो चाहे वही यहा प्रसारित होता है ।

उत्तर कोरिया मे वही समाचार प्रसारित होते है जो तानाशाह कोरिया को बताना चाहता है साथ ही उत्तर कोरिया इंटरनेट सभी को नहीं मिलता है यह सुविधा केवल चंद लोगो को ही मिली हुई है कोरिया बाहरी दुनिया से पूरी तरह कटा हुआ है मेगज़ीन भी तानाशाह की मर्जी से ही छपती है ।कोरिया का अपना कम्प्युटर ऑपरेटिंग सिस्टम रेड स्टार है ।

उत्तर कोरिया मे सभी को कार रखने की पाबंदी है केवल सेना के अफसर और सरकारी कर्मचारी ही कार रख सकते है ।

उत्तर कोरिया मे पर्यटक स्थानीय लोगो से बात नहीं कर सकते है ।केवल गाइड की निगरानी मे गुमा जा सकता है ।उत्तर कोरिया मे मोबाइल लेकर घूमना मना है इसलिए पर्यटको के मोबाइल एयरपोर्ट पर ही जमा कर लेते है पर्यटक जब वापस अपने देश जाते है तो उन्हे उनके मोबाइल दे दिये जाते है ।

कोरिया के नागरिक दुनिया के किसी अन्य देश मे जाकर नहीं बस सकते है अनहे दूसरे देश का वीसा नहीं दिया जाता है


सनकी किम की स्कूल और बच्चो पर भी चलती है तानाशाही 


स्कूल्स की इतिहास की किताब मे केवल किम जोंग के बारे मे पदया जाता है बाकी दुनिया के इतिहास से उहे कोई मतलब नहीं है स्कूल्स मे बच्चो के क्लासरूम मे टिशू पेपर लटकाए जाते है जो उन्हे टॉइलेट के पर्मिशन के साथ ही मांगने पड़ते है  ये बच्चो के लिए बहुत ही शर्मिंदा करने वाला नियम है ।जापान की तरह कोरिया मे भी बच्चो को सफाई का पाठ स्कूल्स मे ही सिखाया जाता है इसलिए बच्चे स्कूल की सफाई के साथ साथ स्कूल के आस पास भी सफाई करते है । कोरिया मे बच्चो को चलती क्लास मे प्रश्न पूछने का अधिकार नहीं है इससे वहा के शिक्षको के ज्ञान का अपमान समझा जाता है क्लास समाप्त होने के बाद मे प्रश्न पुछ सकते है । स्कूल्स के स्टाफ एवं बच्चो को अलग से स्लीपर चप्पल स्कूल ले जाने पड़ते है क्योकि वहा गंदे जूते क्लास के बाहर ही उतरवा दिये जाते है ताकि गंदगी स्कूल मे न फैले । उत्तर कोरिया मे मार्च से फरवरी तक स्कूल चलाये जाते है बच्चो को कोई छूट्टी नहीं मिलती है।कोरिया मे केवल कुछ फेस्टिवल पर ही छुट्टी मिलती है हर स्कूल मे अलग अलग पनिषमेंट तय की जाती है जो वह पड़ने वाले बच्चो को माननी ही पड़ती है कई बार बच्चो ने इसका विरोध भी किया है ।पूरी दुनिया के स्कूल्स मे 8 घंटे की क्लास के बाद बच्चे घर चले जाते है पर कोरिया मे एसा नहीं होता है कोरिया के स्कूल्स मे एक्सट्रा क्लासेस चलाई जाती है ताकि कोर्स समय से खत्म किया जा सके ।



कौन है किम जोंग उन

किम की पुरानी जिंदगी से सभी अंजान है किम का जन्म 1980 मे मशहूर सिंगर को यंग हुई और उत्तर कोरिया  के  डिक्टेटर किम जोंग ईल के सुपुत्र है उनके दादा किम जोंग  संग किम वंश के संस्थापक माने जाते है किम जोंग उन और उनकी बहन किम यो जोंग की शिक्षा स्विट्ज़रलैंड मे हुई है कीम के दोस्त अरीकन बास्केटबाल प्लेयर डेनिस रोटमेन से थी ।महज 14 साल की उम्र से विस्कि और सेंट लौरेंट सिगरेट पीने लत है ।किम की पत्नि री सोल जु पेशे से सिंगर है और उनके तीन बच्चे भी है साल  2012 मे किम जोंग के साथ पियोंगयांग अमूस्मेंट पार्क के उद्घटन मे दुनिया को अपनी पत्नि से  मुखातिब करवाया गया ।उनकी पिछली जिंदगी गोपनीय राखी गयी है  पियोंगयांग  मे किम ने वियतनामी तरीके का घुड़सवारी केंद्र खोला है  2011 मे पिता की मृत्यु के बाद गद्दी संभालने से पहले किम काफी शरमीले किस्म के हुआ करते थे पर गद्दी संभालते ही किम ने अपने डिप्टी रक्षा प्रमुख को एक मीटिंग मे सोता पाये जाने पर मोर्टर से उड़ा दिया 2013 मे  किम जोंग ने अपनी 68 साल की बुआ किम क्यौंग की जहर देकर हत्या कर दी इसका कारण उनकी पति की हुई हत्या का सार्वजनिक रूप से विरोध किया जाना था किम ने उनकी बुआ के पति को खुखर भूके कुत्तो के सामने डाल दिया था जिसने उनकी बोटी बोटी नोच ली गयी थी यहाँ तक किम किम ने अपनी सिंगर गर्लफ्रेंड और उनके ग्रुप को गोली से छल्ली करवा दिया  जोंग ने चाचा जेंग सॉन्ग थाएक को जहर देकर मार दिया किम ने अपने कई अधिकारियों को भी अजीब कारणो के चलते मार दिया ।

कौन है किम यो जोंग


किम यो जोंग का जन्म 26 सितम्बर 1988 को हुआ था किम यो  जोंग के पिता किम जोंग इल हसी सुर उनकी माता का नाम योंग हुई था किम जोंग एवं किम यो जोंग क बचपन से ही घनिष्ठ संबंध रहे । दोनों भाई बहन स्विट्ज़रलैंड मे पड़े एवं उन्हे बचपन से ही विडियो गेम खेलकर बड़ी हुई है एवं उनका स्वभाव और सोच किम से अलग नहीं रही है बाद मे ईल गाया सेन्य विश्वविध्यालय मे कम्प्युटर साइन्स मे तालिम हासिल की उनकी एक जापानी मित्र रही जिनका नाम किम यून ग्योंग रही जो मेगुमि योकोता की पुत्री है ।

दिसम्बर 2011 मे पिता किम जोंग ईल के अंतिम संस्कार मे किम यो जोंग प्रथम बार राजनिती से मुखातिब हुई थी किम जोंग की राष्ट्रीय टूर मैनेजर के रूप मे 2012 मे उन्होने शुरुआत की बाद मे उन्हे राष्ट्रिय रक्षा आयोग मे पद दिया गया किम यो जोंग सुप्रीम पीपूल्स असेंबली के लिए मतदान मे शामिल हुई । अक्टूबर 2014 मे भी उन्होने बीमार भाई के लिए कर्तव्यो को पूरा किया था जबकि उनका चिकित्सा उपचार चल रहा था ।

किम यो जोंग दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून जे इन और अमेरिका उपराष्ट्रपति माइक पैंस ने 2018 मे शीतकालीन ओलोंपिक समाहरोह मे शामिल होना PAD के उपाध्यक्ष का पद संभाला इनहोने किम की नाम के साथ जुलाई 2015 मे सहायक की भूमिका निभाई उनकी पास उपमंत्री का पद भी है

2017 मे किम यो जोंग को पहली बार पॉलिट ब्यूरो मे शामिल किया गया यह ग्रुप उत्तर कोरिया के सभी प्रमुख फैसले लेने वाली संस्था है जिसमे किम यो जोंग जगह पाने वाले दूसरी कोरियाई महिला बनी राज्य सुरक्षा विभाग के  प्रभारी का पद ,कोरिया व संयुक्त राज्य अमेरिका के हनोई शिखर सम्मेलन मे अपने भाई के साथ सम्मिलित हुई अपने भाई किम जोंग की राजनयिक सलहाकार की भूमिका निभाई मार्च 2020 मे पार्टी के पहली डिप्टी डाइरेक्टर के रूप मे आधिकारिक बयान जारी किया


Comments

Post a Comment

Popular posts from this blog

घर की वाटर प्रूफिंग कैसे करें

समुद्री ज्वार से विद्युत उत्पादन Tidal Energy Power Plant

सुप्रीम कोर्ट ने बिटकॉइन क्रिप्टो करेंसी को भारतीय बाजार में दी खरीदी की अनुमति