vishakhapatnams city vizag me L.G Polymersne bhopal gas kand ki yaad tazaa kar di

Image
आंध्रप्रदेश  के विशाखापटनम वायज़ेग के वेंकटपुरम  के आर आर पुरम की एल .जी. पॉलिमर कंपनी मे रात करीब ढाई बजे स्टाइरिन गैस लीक होने से लोग जहा थे वही बेहोश हो गए कुछ लोग सड़क पर भी बेहोशों की अवस्था मे मिले है । गैस लीक होने से  यहा वह लोग गिरने लगे कुछ की लाश सड़क पर तो कोई कुए मे तो कोई नाले किनारे मृत पाये गए इस तरह से कुल  11  व्यक्तियों की मृत्यु हो गयी है साथ कई पशु पक्षी भी इसगेस से आहात हुए हे सबसे ज्यादा नुकसान बुजुर्गो एवं बच्चो मे देखने को मिला है वही अस्थमा के मरीज को भी अस्पताल मे भर्ती करवाया गया है 3 से 4 किलोमीटर क्षेत्र मे फ़ेल जाने से लोगो को रेशेस आंखो मे जलन एवं सांस लेने मे तकलीफ हो रही है करीब 1000 लोगों को अस्पताल मे भर्ती कराया गया है । 100 नंबर से सूचना आने के तुरंत बाद सरकार एवं प्रशासन हरकत मे आया और डीसास्टर मेनेजमेंट ने 5 गाँव को खाली कराया है  । केंद्र सरकार भी हरकत मे आ गयी है और राज्य को यथा संभव मदद का एलान किया है गैस रिसाव पर काबू पाया गया है  ।जगन मोहन रेड्डी द्वारा घटना स्थल पर पहुचकर हॉस्पिटल मे भर्ती मरीजो से मुलाक़ात कर सहायता का आश्वासन पीड़ितो को दिया …

17 मई 2020 तक लागु Modified Lockdown 3.0 मे रेड ,ऑरेंज,ग्रीन ज़ोन मे दी जानी वाली रियायते

modified लोक डाउन 3.0 आखिर है क्या 

17 मई तक modified लोक डाउन  एक चरणबद्ध तरीके से  कुछ विशेष छूट के साथ लोकडाउन को आम जनता के लिए सहज बनाना ताकि जनता को होने वाली परेशानी के स्तर को कम किया जा सके चूंकि हमारे देश के जिलो को रेड , ऑरेंज , ग्रीन इस प्रकार से तीन ज़ोन मे विभाजित किया गया है जिसमे से modified लोक डाउन की ज़्यादातर छूट ग्रीन ज़ोन मे मिलेंगी ऑरेंज ज़ोन मे ग्रीन ज़ोन के मुक़ाबले दी जाने वाली रियायते कम होंगी एवं रेड ज़ोन मे कंटेनमेंट ज़ोन मे या सील की गयी सोसाइटी मे ये modified लोक डाउन की छूट नहीं मिलेंगी शेष बचे एरिया मे कुछ छूट दी जा सकती है ।

कंटेनमेंट क्षेत्र  

सील किए गए वो क्षेत्र जहा कोरोना के मरीज ज्यादा संख्या मे पाये जा रहे है उन्हे कंटेनमेंट ज़ोन मे तब्दील कर उस क्षेत्र मे नए लोगो के प्रवेश और निकासी पर रोक लगाना ताकि कोरोन को उस क्षेत्र मे ही रोक लिया जावे यहा केवल जरूरत का समान ही मुहेया करवाया जा रहा है ।

रेड , ऑरेंज, ग्रीन  ज़ोन जिलो की पहचान कैसे की गयी 

रेड ,ऑरेंज,ग्रीन  ज़ोन जिलो की पहचान उस जिले मे बड़ने वाले कोरोना मरीजो की संख्या के आधार पर जिलो को इन तीनों ज़ोन मे विभाजित किया गया । भारत के 733 जिलो को 17 मई तक चलने वाले modified लोक डाउन मे आर्थिक गतिविधियो को बड़ावा देने के लिए  रेड ऑरेंज और ग्रीन ज़ोन मे बाटा गया है।रेड ज़ोन मे 130 उन जिलो को शामिल किया गया जहा कोरोना दुगनी रफ्तार से फ़ेल रहा है जैसे मुंबई ,दिल्ली,जयपुर,इंदौर,एवं ऐसे 284 जिले जहा कोरोना मरीज की संख्या बहुत कम मोजूद है उन्हे ऑरेंज ज़ोन मे डाला गया है , ऐसे क्षेत्र जो 21 दिनो के लोकडाउन मे कोरोना संक्रमित होने से बचे रहे ऐसे 319 जिलो को ग्रीन ज़ोन घोषित किया गया है ।

अंडमान और निकोबार मे 1 रेड  0 ऑरेंज और 2 ग्रीन जोने है ।
आंद्र प्रदेश मे 5 रेड 7 ऑरेंज 1 ग्रीन ज़ोन है ।
अरुणाचल प्रदेश मे 0 रेड  0 ऑरेंज 25 ग्रीन ज़ोन है ।
असम 0 रेड 3 ऑरेंज  30 ग्रीन ज़ोन है ।
बिहार 5 रेड 20 ऑरेंज 13 ग्रीन ज़ोन है ।
चंडीगड़ 1 रेड 0 ऑरेंज 0 ग्रीन ज़ोन है ।
छत्तीसगढ़ 1 रेड 1 ऑरेंज 25 ग्रीन ज़ोन है ।
दादरा नगर हवेली 0 रेड 0 ऑरेंज 1 ग्रीन ज़ोन है ।
दिल्ली 11 रेड 0 ऑरेंज 0 ग्रीन ज़ोन है ।
दमन और दीव 0 रेड 0ऑरेंज  2 ग्रीन ज़ोन है ।
गोवा 0 रेड 0 ऑरेंज 2 ग्रीन ज़ोन है ।
गुजरात 9 रेड 19 ऑरेंज 5 ग्रीन ज़ोन है ।
हरयाणा 2 रेड 18 ऑरेंज 2 ग्रीन ज़ोन है ।
हिमाचल प्रदेश 0 रेड 6 ऑरेंज 6 ग्रीन ज़ोन है ।
जम्मू एंड कश्मीर  4 रेड 12 ऑरेंज 4 ग्रीन ज़ोन है ।
झारखंड  1 रेड  9 ऑरेंज 14 ग्रीन ज़ोन है ।
कर्नाटक 3 रेड 13 ऑरेंज 14 ग्रीन ज़ोन है ।
केरल 2 रेड 10 ऑरेंज 2 ग्रीन जोन है ।
लद्दाख 0 रेड 2 ऑरेंज 0 ग्रीन ज़ोन है ।
लक्षद्वीप 0 रेड 0 ऑरेंज 1 ग्रीन ज़ोन है ।
मध्यप्रदेश 9 रेड 19 ऑरेंज 24 ग्रीन ज़ोन है ।
महाराष्ट्र 14 रेड 16 ऑरेंज 6 ग्रीन ज़ोन है ।
मणिपुर 0 रेड 0 ऑरेंज 16 ग्रीन ज़ोन है ।
मेघालय 0 रेड 1 ऑरेंज 10 ग्रीन ज़ोन है ।
मिज़ोरम 0 रेड 0 ऑरेंज 11 ग्रीन ज़ोन है ।
नागालैंड 0 रेड 0 ऑरेंज 11 ग्रीन ज़ोन है ।
ओड़ीशा 3 रेड 6 ऑरेंज 21 ग्रीन ज़ोन है ।
पुडुचेरी 0 रेड 1 ऑरेंज 3 ग्रीन ज़ोन है ।
पंजाब 3 रेड 15 ऑरेंज 4 ग्रीन ज़ोन है ।
राजस्थान 8 रेड 19 ऑरेंज 6 ग्रीन ज़ोन है ।
सिक्किम 0 रेड 0 ऑरेंज 4 ग्रीन ज़ोन है ।
तमिलनाडु 12 रेड 24 ऑरेंज 1 ग्रीन ज़ोन है ।
तेलंगाना 6 रेड 18 ऑरेंज 9 ग्रीन ज़ोन है ।
त्रिपुरा 0 रेड 2 ऑरेंज 6 ग्रीन ज़ोन है ।
उत्तर प्रदेश 19 रेड 36 ऑरेंज 20 ग्रीन ज़ोन है ।
उत्तराखंड 1 रेड 2 ऑरेंज 10 ग्रीन ज़ोन है ।
पश्चिम बंगाल 10 रेड 5 ऑरेंज 8 ग्रीन ज़ोन है ।

  10 राज्य इस सूची मे ऐसे है जिनमे एक भी रेड ,ऑरेंज, जोन नहीं है ।

MHA के द्वारा जारी गाइडलाइन मे रेड,ऑरेंज,ग्रीन ज़ोन मे मिली रियायत 

रेड  ज़ोन 

रेड जोन मे रिकशॉ, टॅक्सी जैसे ओला, उबर इत्यादि पब्लिक ट्रांसपोर्ट,हजामत की दुकान, स्पा , जिम, मॉल , बंद रहेंगे केवल ई कोमर्स को जरूरी समान के लिए छूट दी गयी है साथ ही किराना ,दवाई, और 35 फीसदी उपस्थिती के साथ सरकारी ऑफिस,पोस्ट ऑफिस ,बेंक खोले जा सकेंगे । स्कूल ,कॉलेज,सिनेमा, कोचिंग , सार्वजनिक पूजा स्थल  बंद रहेंगे साथ ही फोर व्हीलर मे दो और टू व्हीलर पर बाइक सवार को छूट दी गई है ।हॉटस्पॉट के एरिया के अतिरिक्त शेष भाग मे कृषि एवं इससे जुड़े व्यवसाय को छूट दी गयी है साथ कन्स्ट्रकशन के कामो मे भी छूट प्रदान की गयी है ।

ऑरेंज ज़ोन 

ऑरेंज ज़ोन मे ई कोमर्स को जरूरी और गैर जरूरी समान की डिलीवरी की छूट दी गई है साथ ही टॅक्सी मे ड्राईवर के साथ दो पेसेंजर की छूट दी गयी है बस की सुविधा बंद रहेगी साथ किराना ,फल सब्जी, दूध ,दवाई की दुकानों को छूट दी गयी है ।

ग्रीन ज़ोन

ग्रीन ज़ोन मे बस को 50 फीसदी सीट केपेसिटी के साथ ओला व उबर को छूट प्रदान की गयी है सभी दुकाने जैसे इलेक्ट्रिक की दुकाने , डाटा कॉल सेंटर , 35 फीसदी उपस्थिती के साथ ऑफिस खोलने की छूट प्रदान की है है साथ ही शराब की दुकानों को खोलने के लिए भी आबकारी विभाग से मंथन जारी है 

साथ ही 10 वर्ष से कम उम्र के बच्चो , 65 वर्ष से अधिक उम्र के व्रद्धजनों एवं गर्भवती महिलों को घर से निकालने की मना है एवं शेष व्यक्तियों के लिए बाज़ार शाम 7 से सुबह 7 बजे तक बंद रहेंगे साथ अलग अलग दुकानों को निश्चित वर के दिन खोला जाएगा रेड ज़ोन एवं ऑरेंज ज़ोन के होटस्पॉट एवं कंटेनमेंट एरिया मे कोई छूट नहीं दी जाएगी   

कोरोना के अलावा भी कुछ मुद्दे हम से जुड़े 

देश मे कोरोना के आकड़े दुगनी रफ्तार से बड़ रहे है खासकर महाराष्ट्र ,गुजरात,मध्यप्रदेश मे ये आंकड़े लगातार बड़ रहे है अवाम सबसे ज्यादा मौत भी इनहि तीन राज्यो मे हुई है देश की राजधानी दिल्ली मे भी आंकड़ी रुकने का नाम नहीं ले रहे है इसके बाद उत्तर प्रदेश ,राजस्थान,पंजाब का नाम आता है देश मे कोरोना के आंकड़े 30000 प्लस जा चुके है स्थिति चिन्ता जनक बनी हुई है आर्थिक तंगी से जुंझते हालत मेmodified लोक डाउन के रूप मे सरकार कोरोना के बीच आर्थिक गतिविधियो को बल प्रदान करने मे जुट गयी है देखना होगा की इन छूट से क्या परिणाम निकालकर आते है ।लोकडाउन मे मजदूरो का पलायन देखा पेडल उनके राज्यो तक यात्रा देखि समचर मे एक स्कूटी वाली माँ और उसके बच्चे को देखा।भूखे मजदूरो किनहड्ताल देखी नेकि के कई वीडियो टीक टॉक पर देखे मास्क बाटे गए खाना बाटा गया चाइना पर इल्ज़ाम लगते देखे किम जोंग की बीमार हालत देखी । इस लोकडाउन मे हम बहुत कुछ देख चुके है डाक्टर एवं कोरोना वारियर पर हमले देखे, तबलिगी जमात के मरकज की घटना देखी उंनके द्वारा डाक्टेर्स से की गयी अभद्रता देखी,घर पर रामायण देखी हिन्दू मुस्लिम की डिबेट देखी ,एक नेता के विरुद्ध खड़ी राजकुमारी और 57 मुस्लिम द्शो को देखा उनके द्वारा उताए कदम देखे ,ओआईसी का आरएसएस के विरुद्ध तंज़ देखा,उन मे कोरोना पाए अल्पसंख्यको को लेकर किए फैसला देखापत्रकारो पर हमले देखे इंटरनेट पर कुछ नोसीखिए पत्रकारो द्वारा नेशनल टीवी के पत्रकारो पर वीडियो देखा असली पत्रकार और नकली पत्रकारिता पर उठते प्रश्नो को देसखा ,पालघर की खबर भी देखी,उत्तर प्रदेश मे साधू की हत्या भी देखी ।पर क्या हम निर्णय तक पहुचे पता नहीं हमे सब देखना है क्योंकि हम माध्यम वर्गीय है,।हममे से ही सरकार के साथ भी हे और खुच खिलाफ भी कुछ को तो पता ही नहीं की हो क्या रहा है ? 




Comments

Popular posts from this blog

घर की वाटर प्रूफिंग कैसे करें

तानाशाह किम जोंग उन के साम्राज्य नॉर्थ कोरिया की वारिश किम यो- जोंग

समुद्री ज्वार से विद्युत उत्पादन Tidal Energy Power Plant